2018 के लिए 10 संकल्प

2018 आ चुका है, आपने भी अपने लिये कुछ महत्वपपूर्ण संकल्प तैयार कर लिये होगे।

हर नया साल पुरानी गलतियों को भूलने का और जीवन में नई शुरुआत करने का समय होता है। नया साल जीवन में कुछ बदलाव लाने और अपने आप को नए संकल्पों के पालन करने के लिए प्रतिबद्ध करने का समय होता है। यदि आप अपने नए साल के संकल्पों का पालन करते हैं तो वे निश्चित रूप से आपके करियर और जीवन को एक नई शुरुआत देंगे। इसलिए हम 2018 के लिए शीर्ष 10 नए साल के संकल्प की सूची लाये है, जो आपके व्यक्तित्व निखारने में आपकी सहायता करेगे।

हमारा संकल्‍प ऐसे होना चाहिये जो टूटे नहीं, इसलिये आज हम आपको कुछ ऐसे आसान से संकल्पे बताएंगे जिनका आप आराम से पालन कर सकते हैं। यह कुछ ऐसे संकल्पक हैं जिनका पालन करने से आप अपने जीवन को और बेहतर बना सकते हैं। अगर आप इनका पालन करेंगे तो ये आपके जीवन में नए उत्साह का संचार करेंगे । तो आइये देखने हैं कौन से हैं ये 2018 के लिए 10 शीर्ष संकल्पर।

सुबह जल्दी उठें
एक कहावत है जल्दी सोये जल्दी उठे. सुबह जल्दी उठने से हम अपने कई जरूरी कामो को सुबह ही कर लेते है, जिससे हमें अन्य कामो के लिए पर्याप्त समय मिलता है. आयुर्वेद में सुबह जल्दी उठने के बहुत से स्वास्थ्य लाभ बताये गए है.

योग करें, तन और मन को स्वस्थ्य रखें
सुबह उठकर नित्य कर्म करने के बाद, अपने दिनचर्या में योग को शामिल करने से हमारे तन और मन पर इसका अद्भुत प्रभाव पड़ता है. बीमारी तनाव को दूर रखता है शारीरिक तथा मानसिक शक्ति में ब्रिधी करने कार्य योग करता है.

लक्ष्य के प्रति ईमानदार रहें
अपने लक्ष्य के प्रति ईमानदार रहे और अपने निश्चित कार्य को सही समय पर पूरा करे. लक्ष्य को बार बार टालने से हमारा उत्साह घट जाता है, इसलिए अपने हर कार्य को समयसीमा में पूरा करने का प्रयास करे और शुरू कार्य को आधा अधूरा न छोड़ें.

परिवार और दोस्तों के साथ अधिक समय बिताए
परिवार तथा दोस्तों के साथ अधिक समय बिताये. जीवन में सबसे महत्त्वपूर्ण समय होता है. आप परिवार के साथ जितना अधिक समय व्यतीत करेंगे आपसी प्यार उतना हे बढ़ेगा.

सप्ताह में एक दिन ब्रत रखें
सप्ताह में एक दिन ब्रत रखने से हमारे पाचन तंत्र को आराम मिलता है जिससे शरीर अपने आप को शुद्ध करता है और शरीर की निरोगता बढ़ती है. अगर मांस खाते हैं तो शाकाहारी बन कर देखिए.

सोसल मीडिया पर कम समय व्यतीत करें
आजकल social media हमारे जीवन को बहुत हद तक प्रभावित करने लगा है जो कभी कभी मानसिक पीड़ा और तनाव का भी कारण बन जाता है. आभासी दुनिया के बजाय वास्तविक दुनिया में अधिक जिए. टेलिविजन, कंप्यूटर, स्मार्टफोन और टैबलेट का इस्तेमाल कम कीजिये. ध्यान देने से पता चलेगा कि हम इन तकनीकों के किस तरह गुलाम हो गए हैं.

अपने आप को अधिक समय दें
हम नौकरी, व्यापार, परिवार के लिए तो समय निकालते है लेकिन अपने ऊपर ध्यान नही देते. अपने लिए रोज कुछ समय निकाले. हम दुनिया की चिंता करते करते खुद को ही भुला देते हैं.

कुछ नया सीखें
अपने रूचि के अनुसार कुछ नया सीखे. कोई नयी भाषा सीखे, योग और ध्यान करना सीखे, वाद्ययंत्र बजाना सीखे. अगर आप तैरना नहीं जानते तो तैरना सीखे.

धूम्रपान और शराब छोड़े
बुरी आदतों को जितनी जल्दी छोड़ दे उतना ही अच्छा है. धूम्रपान और शराब की लत छोड़ने से हमारे जीवन में होने वाले लाभ के बारे में सोचें. दूसरों की मदद करें दूसरो की मदद करे उन्हें आगे बढ़ने में मदद करें और देखे आपकी खुशिया किस प्रकार बढ़ जाती है. दूसरों के साथ अच्छा ब्यवहार करें. जिनको मदद की जरूरत है उनकी मदद करें.

ऐसे संकल्प जो आप करना चाहते हों लिखिए और उसे पूरा करने का हरसंभव प्रयास कीजिये, ये आपकी खुशियों में ब्रिधि के साथ आपको लक्ष्य के करीब भी पहुचाने में मदद करेगें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *