गेहूं के ज्वारे

गेहूं के ज्वारे यानि Wheatgreass को यदि पृथ्वी की संजीवनी कहा जाए तो अतिश्योक्ति ना होगा. कथाओं तथा विश्व इतिहास में इसके कई उल्लेख मिलते हैं. कुल 102 पोषक तत्वों में से 92 उचित मात्रा में व्हीटग्रास में मौजूद हैं. इसमें तेजी से शुद्ध रक्त बनाने की अद्भुत क्षमता के कारण इसे ग्रीन ब्लड भी कहा जाता है.

ह्यूमन ब्लड और व्हीटग्रास दोनों का ही पी एच फैक्टर 7.4 है. यह रेड ब्लड सेल्स को शुद्ध करके ब्लड प्रेशर को नार्मल रखने में मदद करता है. यह बहुत ही स्वास्थ्यवर्धक तथा चिकित्सकीय गुण वाला होता है.

प्राचीन काल से ही भारत के चिकित्सक गेहूं के जवारों का प्रयोग विभिन्न रोगों के उपचार में किया करते थे. Wheatgrass जूस के नियमित सेवन तथा नाड़ी शोधन प्राणायाम से बहुत सी शारीरिक समस्याओं से बचा जा सकता है. इसका रस शारीरिक शक्ति में वृद्धि करके मोटापा, खून की कमी, मधुमेह तथा पाचन संबंधी समस्याओं को दूर करने में मदद करता है. यह मस्तिष्क और शरीर के लिए बहुत उपयोगी है. व्हीटग्रास जूस लेने वालों में बिल क्लिंटन, लांस आर्मस्ट्रांग, एंजलीना जोली का नाम शामिल है.

कुछ अन्य खान पान संबंधी सुझाव जो हमारे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करेंगे:

  • सब्जियों और फल को अपने आहार में उचित मात्रा में शामिल करें.
  • मांसाहार, मक्खन आयल और तेल का प्रयोग कम करें.
  • चीनी कैफीन रिफाइंड अनाज ज्यादा नमक हमारे स्वास्थ्य के सबसे बड़े दुश्मन हैं इनसे बचे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *